Saturday, June 3, 2017

आसमानी बिजली से कैसे बचा जाये?

बिजली गिरने से हर साल कई लोगों की मृत्यु हो जाती है।
द्वारा
डा. नितीश प्रियदर्शी
भूवैज्ञानिक एवं पर्यावरणविद।

राँची


भारत में पिछले कुछ वर्षों से मौसम  लगातार  बदल रहा है जिसके चलते आंधी तूफ़ान तथा आसमान से बिजली गिरने की खबर आ रही है। बिजली गिरने से हर साल कई लोगों की मृत्यु हो जाती है। इस वर्ष भी आसमानी बिजली गिरने की वजह से कई लोगों की असामायिक मृत्यु हुई खासकर बिहार , झारखण्ड , ओड़िसा, मध्य प्रदेश  इत्यादि राज्यों में। २०१६ में बिजली गिरने से बिहार, झारखंड और मध्यप्रदेश में करीब १०० से ऊपर  लोगों की मौत हो गई, जबकि 24 लोग घायल हुए।  इस प्राकतिक आपदा में 13 पशुओं की भी मौत हुई।  बिहार के  पटना, नालंदा, पूर्णिया, भोजपुर, रोहतास, बक्सर और औरंगाबाद में आसमानी बिजली इंसानों पर कहर बनकर टूटी । झारखंड और उत्तर प्रदेश में भी अलग-अलग जगहों पर बिजली गिरने से कई लोगों की मौत हुई।   लोगों में जागरूकता की कमी से लोगों को जान से हाथ धोना पड़ता है।

आइये ये जानने की कोशिश करें की जब आसमान में कस के बिजली चमक रही हो तो क्या करना चाहिए।  १. ऊँचे मकानो के अंदर पनाह ले और याद रखें जब आखिरी बार बिजली चमकी  हो उसके आधे घंटे बाद तक उसी मकान के अंदर रहें।  २. किसी भी पेड़ के नीचे न जाएँ।  ३. अगर आप गाडी चला रहें हो तो रोक के उसी के अंदर रहें तथा गाडी के अंदर किसी धातु को न छुए।  ४. अगर आप खुली जगह पे हैं जहाँ पर छिपने की कोई भी जगह नहीं है तो किसी समतल या नीचे जगह वाले क्षेत्र में झुक कर बैठ जाएं।  याद रखें ऊँची जगह या जल जमाव  वाला क्षेत्र न हो।  ५ मोबाइल टावर के आस पास गलती से भी न जाएँ।  ६ मोबाइल फ़ोन को स्विच ऑफ कर दें अगर आप खुली जगह पर हैं।  ७. लोगों को लगता है की पाकेट से धातु के सामानों को हटा देने से उनपर बिजली नहीं गिरेगी तो ये सोचना गलत है।  ८ ऊँचे घरों पर तड़ित चालक जरूर लगाएं खासकर जो मकान खुले में हों।  ९.  खेतों से तुरंत हट जाएँ।  १०. जिनको पेसमेकर लगा हो वो ज्यादा सावधानी बरतें और बादल  जब गरज रहे हों तो घर से बाहर  न निकले।  ११. जंगल में होने पर निचले स्थान या घाटी क्षेत्र में रहें, लेकिन वहां आकस्मिक बाढ़ से भी सावधान रहें।  १२. किसी पहाड़ी की चोटी पर खड़े न हों।  १३. यदि आपके सिर के बाल खड़े हो रहे हों तो आपके आसपास खतरा हो सकता है।  १४. अगर बादल गरज रहे हों, और आपके रोंगटे खड़े हो रहे हैं तो ये इस बात का संकेत है कि बिजली गिर सकती है। १५. अगर किसी पर बिजली गिर जाए, तो तत्काल डॉक्टर की मदद मांगें।  ऐसे लोगों को छूने से आपको कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा।  अगर किसी पर बिजली गिरी है तो तत्काल उसकी नब्ज जांचें और अगर आप प्रथम उपचार देना जानते हैं तो अवश्य दें। १६. बिजली गिरने के बाद तुरंत बाहर न निकलें. अधिकाशं मौतें तुफ़ान गुज़र जाने के 30 मिनट बाद तक बिजली गिरने से होती हैं। १७. दोपहर में इसके गिरने की अधिक आशंका होती है।१८. जब आप घर के भीतर हों तो बिजली से संचालित उपकरणों से दूर रहें, तार वाले टेलीफोन का उपयोग नहीं करना चाहिए। खिडकियां व दरवाजे बंद कर दें बरामदे और छत से दूर रहें। इसके अलावा ऐसी वस्तुएं जो बिजली के सुचालक हैं उनसे भी दूर रहना चाहिए। धातु से बने पाइप, नल, फव्वारा, वाश बेसिन आदि के संपर्क से दूर रहना चाहिए। १९. नंगे पैर फर्श या जमीन पर कभी खड़े ना रहें।

  
Post a Comment